आजादी के 60 साल बाद भी देश का संचालन ब्रिटिश सरकार के तत्वों द्वारा

0
188

SOUTHBLOCKनई दिल्ली: नयी सरकार बनने की स्थिति देख अब योजना आयोग के सदस्य अरुण मायरा ने भी पुस्तक ‘रीडिजाइनिंग द प्लेन व्हाइल फ्लाइंग- रिफार्मिंग इंस्टिट्यूशंस’ लिख विमोचन करा जिसमें कहा गया है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 2004 के चुनाव में शानदार जीत के बाद खुद प्रधानमंत्री नहीं बन कर अपने वफादार टेक्नोक्रैट डॉ. मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री का पद दे दिया, लेकिन सभी नीतियों और महत्वपूर्ण नियुक्तियों में कांग्रेस अध्यक्ष का दखल होता हे।’
मायरा ने इस बात पर क्षोभ जताया कि आजादी के 60 साल बाद भी देश के कामकाज के संचालन के ढांचे में ब्रिटिश सरकार के तत्व मौजूद हैं।
इस किताब के विमोचन के बाद यहां एक समारोह में पत्रकारों से बातचीत में मायरा ने इस बात को स्वीकार किया कि देश में नीतिगत मोर्चे पर भारी खामी की स्थिति है। यह स्थिति निवेशकों, उद्योगपतियों और नागरिकों सभी के लिए पूरे देश के लये चिंता का विषय है।
उन्होंने आगे पुस्तक में लिखा है कि अब उनके बेटे राहुल गांधी को ‘वंशवादी परंपरा का काम’ और कांग्रेस पार्टी को नेतृत्व प्रदान करने के लिए आगे किया गया है। दुर्भाग्य की बात यह है कि कई अनेक राजनीतिक दलों ने भी अब इसी तरह की निरंकुश और वंशवादी व्यवस्था का ढांचा अपना लिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY