राफेल पर कांग्रेस ने अमित शाह, जेटली से लेकर पीयूष गोयल और रविशंकर तक को दिखाया आईना राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जिस तरह सत्तारूढ़ बीजेपी और मोदी सरकार के मंत्रियों ने कांग्रेस पर हमले किए थे, अब कांग्रेस ने एक-एक कर उनका जवाब दिया

0
73

राफेल मामले पर कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। खड़गे ने कहा, “मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में गलत जानकारी दी है। सरकार ने सीएजी की रिपोर्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट में झूठ बोला है। मैं अपने सारे पब्लिक अकाउंट कमेटी से अनुरोध कर रहा हूं कि अटॉर्नी जनरल को बुलाया जाए और सीएजी के चीफ से भी पूछताछ की जाए कि कब यह रिपोर्ट सदन पर रखा गया, कब सीएजी के पास रिपोर्ट आई, कब पीएसी के पास यह रिपोर्ट आई और कब यह फाइनल हुआ।”खड़गे ने कहा कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में झूठ बोला कि सीएजी रिपोर्ट सदन में पेश की गई और पीएसी के सामने भी, इसके बाद पीएसी ने इसकी जांच की। सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने कहा कि ये जानकारी पब्लिक डोमेन में मौजूद है। तो सरकार बताए कि ये जानकारी कहां मौजूद है? क्या आपने इसे देखा है? उन्होंने आगे कहा कि मोदी सरकार को कोर्ट में झूठ बोलने के लिए माफी मांगनी चाहिए।
उन्होंने आगे कहा, “शुक्रवार को जो सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया है, उससे माना जा सकता है कि कोर्ट के सामने सरकार ने ठीक तरीके से तथ्यों को नहीं रखा। कोर्ट को सरकार ने भ्रमित करने का काम किया है। सरकार ने कहा है, सीएजी रिपोर्ट पेश की गई है, पीएसी ने जांच की है, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है।” उन्‍होंने कहा, पीएसी की जांच के वक्त एविडेंस लिए जाते है, पेशी होती है, सारे मेंबर पेश होते हैं, ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है।
उन्होंने आगे कहा कि देश को गुमराह करने के लिए सारी झूठीं चीजें लाकर सरकार सारी बातें सत्य साबित करने की कोशिश कर रही है। इसलिए हमारी मांग है कि जेपीसी से इसकी जांच करवाओ।राफेल पर कांग्रेस ने अमित शाह, जेटली से लेकर पीयूष गोयल और रविशंकर तक को दिखाया आईना,राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जिस तरह सत्तारूढ़ बीजेपी और मोदी सरकार के मंत्रियों ने कांग्रेस पर हमले किए थे, अब कांग्रेस ने एक-एक कर उनका जवाब दिया है।कांग्रेस ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को जवाब दिया है कि, “अरुण जेटली जी, हम आपकी इस बात से सहमत हैं कि राष्ट्रीय राजनीतिक पार्टियों के नेताओं को मुद्दों की अच्छी जानकारियां होनी चाहिए। अगर आप ऐसे लोगों की मदद करना चाहते हैं जिनकी इस मुद्दे पर जानकारी जरा कम है, तो मेजर जनरल (रिटा.) राजन कोचर के अभियान से जुड़िए और उनकी याचिका पर हस्ताक्षर कीजिए, ताकि सच सामने आ जाए।”
कांग्रेस ने यह जवाब वित्त मंत्री अरुण जेटली के उस ट्वीट पर लिखा है जिसमें उन्होंने कहा था कि राफेल का मुद्दा पूरी तरह झूठ पर आधारित है। उन्होंने कहा था कि राष्ट्रीय राजनीतिक दलों के नेताओं को बुनियादी तथ्यों की अच्छी जानकारी होना चाहिए।
कांग्रेस ने इसके अलावा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को करार जवाब दिया है। कांग्रेस ने लिखा है कि, “अमित शाह जी, आपके पास सच को सामने लाने का मौका है, कृपया राजनीतिक फायदे के लिए भ्रामक जानकारियां फैलाना बंद कर दें, और देशवासियों को दिखादें कि आप सच से नहीं डरते हैं। इसके लिए आप मेजर जनरल राजन कोचर की याचिका पर हस्ताक्षर कर सकते हैं।”
अमित शाह ने राफेल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ट्वीट में कहा था कि सत्य की सदा जीत होती है। कोर्ट के फैसले से कांग्रेस के उस भ्रामक प्रचार की पोल खुल गई है जो राजनीतिक फायदे के लिए किया जा रहा था।
कांग्रेस ने यहीं बस नहीं किया। उसने रेल मंत्री पीयूष गोयल को भी जवाब देते हुए लिखा है कि, “आपको पता है कि किसकी पोल नहीं खुल पाई? वह है आपकी सरकार की सीएजी रिपोर्ट की। आप राजन कोचर की याचिका पर हस्ताक्षर कर हमें सच का रास्ता दिखा सकते हैं, क्योंकि आप तो खुद ही कहते हैं सत्यमेव जयते”
दरअसल पीयूष गोयल ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस के झूठे प्रचार की पोल खुल गई है।
कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को भी कांग्रेस ने आईना दिखाया है। कांग्रेस ने कहा है कि, “रविशंकर प्रसाद जी आपने तो काफी सम्माननीय प्रतिबद्धता दिखाई। क्या आप हमें सीएजी रिपोर्ट उपलब्ध कराने की मेहरबानी करेंगे। अगर ऐसा नहीं कर सकते तो मेजर जनरल (रिटा.) राजन कोचर की याचिका पर हस्ताक्षर कर सकते हैं।”

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY