केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने अपने एक बयान में कांग्रेस की तीन राज्यों में जीत पर राहुल गांधी की तारीफ की है। उन्होंने कहा है कि राहुल गांधी ने एक अच्छी जीत हासिल की है और अब वह ‘पप्पू’ नहीं है बल्कि ‘पप्पा’ बन गए

0
94

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने अपने एक बयान में कांग्रेस की तीन राज्यों में जीत पर राहुल गांधी की तारीफ की है। उन्होंने कहा है कि राहुल गांधी ने एक अच्छी जीत हासिल की है और अब वह ‘पप्पू’ नहीं है बल्कि ‘पप्पा’ बन गए हैं। उन्होंने कहा शिव सेना अलग चुनाव लड़ेगी तो भाजप व सेना दोनो को हानी
ठाणे,पांच विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद कांग्रेस ने तीन हिंदीभाषी राज्यों में सरकार बना ली है। कांग्रेस पार्टी की इस जीत के बाद से राहुल गांधी के नेतृत्व कौशल को लेकर लोगों के नजरिये में काफी बदलाव आया है। लोग उनमें एक परिपक्व राजनेता देखने लगे हैं। इस संबंध में ताजा बयान केंद्रीय मंत्री
रामदास अठावले ने दिया है। एनडीए सरकार में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास अठावले ने रविवार को कहा कि राहुल गांधी ने तीन राज्यों में अच्छी जीत हासिल की है। वह अब ‘पप्पू’ नहीं हैं लेकिन ‘पप्पा’ जरूर बन गए हैं।
बीजेपी की हार पर नरेंद्र मोदी का किया बचाव
अठावले ने तीनों राज्यों में बीजेपी की हार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बचाव करते हुए कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में बीजेपी की चुनावी हार मोदी की हार नहीं है। उन्होंने कहा कि यह हार बीजेपी की है न कि नरेंद्र मोदी की। गौरतलब है कि तीन राज्यों में बीजेपी की हार के बाद प्रधानमंत्री मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं और इसे मोदी लहर के खत्म होने का संकेत माना जा रहा है। बता दें कि रामदास अठावले रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया (ए) के अध्यक्ष हैं। उनकी यह पार्टी सत्ताधारी एनडीए का एक घटक दल है।

शिवसेना को दी सलाह, ‘बीजेपी से न तोड़े गठबंधन’
आरपीआई(ए) के अध्यक्ष अठावले ने ठाणे जिले के कल्याण में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि शिवसेना को बीजेपी के साथ अपना गठबंधन बनाए रखना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो इससे शिवसेना को ही नुकसान होगा। अठावले ने कहा कि मैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से सेना सुप्रीमो बाल ठाकरे के सपनों को पूरा करने की अपील करता हूं। उसे (सेना) अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोचना चाहिए। कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि उसे यह धारणा नहीं रखनी चाहिए कि वह राफेल सौदे को बार-बार उठाकर 2019 का चुनाव जीत लेगी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY