मन्ना डे नहीं रहे पर हमेशा अपने सुपरहिट और सदाबहार गीतो में यादो में रहेगे

0
213

नई दिल्ली: मन्ना डे ने 1943 की “तमन्ना” से सुरैया के साथ पार्श्व गायन के क्षेत्र में कदम रखा. 1950 की “मशाल” में उन्होंने गीत “ऊपर गगन विशाल” गाया जिसको संगीत दिया था सचिन देव बर्मन ने. इससे पहले वह फ़िल्म ‘रामराज्य’ में कोरस के रूप में गा चुके थे.

मन्ना डे के कुछ सुपरहिट और सदाबहार गीत-

1. हंसने की चाह ने इतना मुझे रुलाया है (अविष्कार)
2. जिंदगी कैसी है पहेली हाय (आनंद)
3. लागा चुनरी में दाग (दिल ही तो है)
4. फूल गेंदवा ना मारो (दूज का चांद)
5. कौन आया मेरे मन के द्वारे (देख कबीरा रोया)
6. तू प्यार का सागर है (सीमा)
7. झनक झनक तोरी बाजे पायलिया (मेरे हुजूर)
8. तू छुपी है कहां (नवरंग)
9. सुर ना सजे (बसंत बहार)
10. ऐ मेरी जोहर-ए-जबीं (वक्त)
11. ये रात भीगी-भीगी (चोरी-चोरी)
12. आजा सनम मधुर चांदनी में हम (चोरी-चोरी)
13. जहां मैं जाती हूं वहीं चले आते हो (चोरी-चोरी)
14. ठहर जरा ओ जाने वाले (बूट पॉलिश)
15. बाबू समझो इशारे (चलती का नाम गाड़ी)
16. धरती कहे पुकार के (दो बीघा जमीन)
17. हर तरफ अब यही अफसाने हैं (हिन्दुस्तान की कसम)
18. नैन मिले चैन कहां (बसंत बहार)
19. सूरज जरा आ पास (उजाला)
20. जोगी आया लेके संदेशा भगवान का (पोस्ट बॉक्स नं. 999)
21. जुल्फों की घटा लेकर (रेशमी रुमाल)
22. ना जाने कहां तुम थे (जिंदगी और ख्वाब)
23. दिल की गिरह खोल दो (रात और दिन)
24. ना तो कारवां की तलाश है (बरसात की एक रात)
25. दिल का हाल सुने दिल वाला (श्री 420)
26. किसने चिलमन से मारा (बात एक रात की)
27. ऐ मेरे प्यारे वतन (काबुलीवाला)
28. प्यार हुआ इकरार हुआ (श्री 420)
29. मुड़ मुड़ के ना देख (श्री 420)
30. मैं तेरे प्यार में क्या क्या ना बना (जिद्दी)
31. झूमता मौसम मस्त महीना (उजाला)
32. उमड़ घुमड़ कर आए रे घटा (दो आंखें बारह हाथ)
33. ये हवा ये नदी का किनारा (घर संसार)
34. कस्मे वादे प्यार वफा, सब बातें हैं (उपकार)
35. प्यार भरी ये घटाएं, राग मिलन के गाएं (कैदी नं.. 911)
36. नदिया चले, चले रे धारा (सफर)
37. जिंदगी है खेल, कोई पास कोई फेल (सीता और गीता)
38. ये दोस्ती (शोले)
39. पूछो ना कैसे मैंने रैन बिताई (मेरी सूरत तेरी आंखें)
40. आयो कहां से घनश्याम (बुढ्ढा मिल गया)

NO COMMENTS